नरसिंहपुर के बीजेपी विधायक जालम सिंह पटेल भेजे गए जेल, ये है पूरा मामला


Narsinghpur News: सगोनी(खुर्द) में अतिक्रमण के दौरान में प्रशासन पर हुए हमले के मामले में विधायक जालम सिंह पटेल ने सरेंडर कर दिया है।

लोकसभा चुनाव के पहले चरण की वोटिंग से पहले बीजेपी को बड़ा झटका लगा है. नरसिंहपुर (मध्‍य प्रदेश) से बीजेपी विधायक जालम सिंह पटेल को बुधवार (10 अप्रैल) को जेल भेज दिया गया. सरकारी काम में बाधा और एससी/एसटी एक्ट के तहत उनके खिलाफ केस दर्ज था. पटेल ने खुद थाने पहुंचकर सरेंडर किया, जिसके बाद उन्हें जेल भेज दिया गया.

बीजेपी विधायक जालम सिंह पटेल को विशेष न्यायाधीश की अदालत ने ज्यूडिशियल कस्टडी में जेल भेजा है. पिछले दिनों सगौनी लकड़हाई गांव में प्रशासन और किसानों के बीच विवाद में विधायक जालम सिंह सहित 11 किसानों पर मारपीट के लिए उकसाने, अपहरण, शासकीय कार्य में बाधा डालने सहित एससी/एसटी एक्ट के प्रावधानों के तहत केस दर्ज किया गया था.

उसी मामले में विधायक ने कोतवाली थाना नरसिंहपुर पहुंचकर सरेंडर किया. कोतवाली पुलिस ने विधायक को गिरफ्तार कर विशेष न्यायाधीश के कोर्ट में पेश किया. इस दौरान होशंगाबाद-नरसिंहपुर संसदीय क्षेत्र के सांसद और लोकसभा क्षेत्र के भाजपा प्रत्याशी उदयप्रताप सिंह और कई समर्थक मौजूद थे. विधायक की जमानत अर्जी पर एट्रोसिटी एक्ट मामले में 11 अप्रैल को सुनवाई की जाएगी.

इस मामले में विधायक ने नरसिंहपुर कलेक्टर दीपक सक्सेना पर गंभीर आरोप लगाया. उन्होंने चुनाव के दौरान उनकी निष्पक्षता पर सवाल उठाए हैं. इस सीट से बीजेपी प्रत्याशी राव उदय प्रताप सिंह ने भी इस मामले पर चिंता जाहिर करते हुए आपत्ति जताई है.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *