नियमित एक कप कॉफी पीने से हो सकता है सर्वाइकल कैंसर से बचाव

महिलाओं में होने वाले गर्भाशय कैंसर की रोकथाम में व्‍यायाम और कसरत के साथ कॉफी भी अहम भूमिका निभाता है। हाल ही में ब्रिटेन में हुए एक शोध में सर्वाइकल कैंसर को बचाने में कॉफी की भूमिका पर शोध किया गया।


द वर्ल्ड कैंसर रिसर्च फंड की रिपोर्ट में यह भी मिला कि कॉफ़ी भी सर्वाइकल कैंसर के ख़तरे को कम कर सकती है। हालांकि विशेषज्ञ कहते हैं कि अभी इस बात के पर्याप्त सुबूत नहीं हैं कि यह कहा जा सके कि कॉफी पीने ये खतरा कम हो सकता है।


इंपीरियल कॉलेज लंदन के अनुसंधानकर्ताओं का कहना है कि अगर महिलाएं रोज आधा घंटा कसरत करें और अपने वजन पर ध्यान दें तो गर्भाशय कैंसर का जोखिम कम किया जा सकता है। गर्भाशय कैंसर महिलाओं में होने वाले कैंसर में चौथा सबसे आम कैंसर है।


इस संबंध में 2007 से किए जा रहे पहले वैश्विक विश्‍लेषण के लिए लंदन इंपीरियल कॉलेज के शोधकर्ताओं ने गर्भाशय कैंसर और खान-पान, शारीरिक गतिविधियों और वज़न से उसके संबंध से जुड़ी वैज्ञानिक खोजों को इकट्ठा कर उनकी समीक्षा की।


इस अध्ययन में यह पता चला कि अगर महिलाएं नियमित 38 मिनट तक कसरत करें और वजन को नियंत्रित रखें तो कैंसर के बढ़ते मामलों को रोका जा सकता है।


इस शोध की लेखिका और इंपीरियल कॉलेज की डॉ. टेरेसा नोराट ने बताया, ‘अगर आप शारीरिक तौर पर सक्रिय हैं और वजन ज्‍यादा नहीं है तो आप गर्भाशय कैंसर का ख़तरा कम कर सकते हैं और अपनी सेहत भी सुधार सकते हैं। ’


द वर्ल्ड कैंसर रिसर्च फंड की कार्यकारी निदेशक कैरेन सैडलर के अनुसार, ‘कॉफ़ी से संबंधित नतीजे बहुत दिलचस्प हैं। ये कॉफी और कैंसर के जोखिम के बीच संबंध की ओर इशारा करता है लेकिन अभी बहुत कुछ किया जाना बाकी है। हमें कैंसर के दूसरे प्रकारों और सेहत पर इसके संभावित असर को देखना होगा, अब हम उसी दिशा में आगे शोध कर रहे हैं।’

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *