टीके से टूटेगा डेंगू का डंक

मच्छरों से डरने वालों के लिए खुशखबरी। एंटी मास्क्यूटो क्वायल, मैट, रिफिल जलाकर रुपये बर्बाद करने वालों के लिए राहत भरी खबर है। डेंगू का डंक तोड़ने के लिए जल्द ही बाजार में वैक्सीन आ जाएगी। चिकित्सकों का दावा है कि उसके दो से तीन डोज बीमारी के खतरे को भविष्य के लिए समाप्त कर देंगे। डीजीएचएस के पास अप्रूवल के लिए फाइल भेजी गई है।

हर साल बारिश के बाद डेंगू और चिकनगुनिया के मच्छर तेजी से पनपते हैं। एक व्यक्ति से दूसरे व्यक्ति में बीमारी का प्रसार शुरू हो जाता है। पिछले साल डेंगू और चिकनगुनिया के हजार से अधिक मामले सामने आए जबकि तीन दर्जन से अधिक लोगों की डेंगू की चपेट में आकर मौत हो गई। साफ-सुथरे क्षेत्रों में बीमारी की दस्तक ने स्वास्थ्य विभाग की सभी तैयारियों की पोल खोल कर रखी दी। प्रदेश में डेंगू को महामारी घोषित करने पर मंथन हुआ और लंबी बहस चली। इसी समस्या को देखते हुए एक दवा निर्माता कंपनी ने डेंगू से निपटने को टीका तैयार किया है।

बाल रोग विशेषज्ञ डॉ. विवेक सक्सेना ने बताया कि यह टीका 18 से 45 साल तक के आयु वर्ग के लिए है। दो से तीन डोज दिए जाएंगे। बच्चों को टीकाकरण में शामिल कराने को लेकर प्रयोग चल रहा है। अप्रूवल के लिए फाइल डीजीएचएस के पास भेजी गई है। एडिशनल सीएमओ डॉ. अरुण श्रीवास्तव ने बताया कि टीकाकरण कार्यक्रम में डेंगू के टीके को लेकर कोई जानकारी नहीं है। हालांकि बाजार में डेंगू का टीका आने का पता चला है। यूआइपी प्रोग्राम के तहत कई नए टीके जल्द लगने शुरू हो जाएंगे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *