भारतीय मूल की अमेरिकी पेप्सिको की पूर्व अध्यक्ष इंदिरा नूई को मिली ‘नेशनल पोर्ट्रेट गैलेरी’ में जगह

नूई को उनकी उपलब्धियों, अमेरिका के साझा इतिहास, विकास एवं संस्कृति पर प्रभाव के कारण गैलेरी में शामिल किया गया है.

वाशिंगटन: 

पेप्सिको की पूर्व अध्यक्ष भारतीय मूल की अमेरिकी इंदिरा नूई(Indira Nooyi)  को अमेजन के सीईओ जेफ बेजोस के साथ प्रतिष्ठित ‘नेशनल पोर्ट्रेट गैलेरी’ में शामिल किया गया है. नूई को उनकी उपलब्धियों, अमेरिका के साझा इतिहास, विकास एवं संस्कृति पर प्रभाव के कारण गैलेरी में शामिल किया गया है. नूई ने गैलरी में शामिल किए जाने के लिए आयोजित कार्यक्रम में कहा, “एक प्रवासी, एक दक्षिण एशियाई प्रवासी और एक महिला को पोर्ट्रेट गैलरी में शामिल किया जाना… दिखाता है कि यहां लोग सकारात्मक प्रभाव डालने वाले लोगों की ओर देखते हैं और उनकी उपलब्धियों को सराहते हैं.” उन्होंने कहा कि महिलाओं को स्वयं को दोयम दर्जे का नागरिक नहीं समझना चाहिए.


नूई ने ‘पीटीआई’ को दिए एक साक्षात्कार में कहा, “यह मायने नहीं रखता कि आपका जन्म कहां हुआ हैं और आपकी विरासत क्या थी. मुझे लगता है कि यदि आप मेहनत करते हैं, आप अपने काम में सकारात्मक योगदान देते हैं और आप ईमानदार हैं, तो अमेरिका आपको वह बनने का बड़ा अवसर मुहैया कराता है जो आप बनना चाहते हैं.”
नूई  को अमेजन संस्थापक जेफ बेजोस, फ्रांसिस अर्नोल्ड, लिन-मैनुअल मिरांडा और ‘अर्थ, विंड एंड फायर’  बैंड के साथ प्रतिष्ठित ‘नेशनल पोर्ट्रेट गैलरी’ में शामिल किया गया है.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *