सौ करोड़ से अधिक पूँजी निवेश के उद्योग

मुख्यमंत्री श्री Kamal Nath की पहल पर बीते 12 महीनों में प्रदेश के औद्योगिक परिदृश्य में बड़ा सकारात्मक बदलाव देखने में आया है। मुख्यमंत्री ने प्रदेश में बड़े उद्योगों के लिये विकसित भूमि आवंटित करने तथा उद्योग स्थापना के लिये दी जाने वाली सभी सहूलियतें मुहैया कराने के लिये ऐतिहासिक निर्णय लिये और उन्हें जमीन पर उतारा। इसके फलस्वरूप देश के बड़े-बड़े उद्योगपति मध्यप्रदेश में उद्योग लगाने के लिये लगातार आगे आ रहे हैं। बड़े उद्योगों के साथ ही मध्यम एवं लघु उद्योगों ने भी प्रदेश में पूँजी निवेश करने की पहल की है। राज्य सरकार ने इनकी पहल का सम्मान करते हुए इन्हें भी आवश्यकतानुसार विकसित भूमि आवंटित की है। मुख्यमंत्री की पहल पर वर्ष 2019 के दौरान बड़े उद्योगों को 773 एकड़ से अधिक विकसित भूमि आवंटित की गई। इसी अवधि में बड़े उद्योगों में 7365 करोड़ से अधिक का पूँजी निवेश संभावित है। औद्योगिक केन्द्र विकास निगम ने विकसित औद्योगिक क्षेत्रों में इस वर्ष, पिछले वर्ष की तुलना में 67 प्रतिशत अधिक विकसित औद्योगिक भूमि आवंटित की। इसी प्रकार बड़े उद्योगों में बीते वर्षों की तुलना में 52 प्रतिशत अधिक पूँजी निवेश भी संभावित है। श्री कमल नाथ के द्वारा प्रदेश में उद्योगों की स्थापना को प्रोत्साहन देने के लिये उठाये गये कदमों के चलते वर्ष 2019 में प्रदेश में वृहद, मध्यम और लघु उद्योगों में कुल 32 हजार 500 करोड़ का निवेश हुआ है। इस अवधि में एक लाख 9 हजार 210 नये रोजगार के अवसर भी निर्मित हुए। सौ करोड़ से अधिक पूँजी निवेश के उद्योग प्रदेश में राज्य सरकार द्वारा निर्मित विश्वास के वातावरण में बड़े-बड़े उद्योग आना शुरू हो गये हैं। मात्र पिछले एक साल में 100 करोड़ से अधिक प्रस्तावित पूँजी निवेश के 11 उद्योगों ने प्रदेश में प्रवेश किया है। इनमें से रॉलसन टायर्स ने पीथमपुर में 1258 करोड़, मे. एसीसी लि. देवसरी जिला कटनी ने 1270 करो़ड़, मेकलाड्स फार्मास्युटिकल्स ने धार में 723 करोड़ 21 लाख, श्रीराम पिस्टन एण्ड रिंग्स ने पीथमपुर में 620 करोड़, सिपला लिमिटेड ने धार में 513 करोड़, स्मार्ट इंडस्ट्रीयल पार्क, धार फारम्युलेशन एसईजेड ने धार में 335 करोड़, मे. पारले एग्रो प्रा.लि., सीतापुर फेस-2 ने 329 करोड़, वेल्सपन कार्पोरेशन लि. जमुनिया खेड़ा ने धार में 300 करोड़, जमना ऑटो ने धार में 230 करोड़, ऑटोमेटिव एक्सल लि. ने धार में 185 करोड़ और इंडियन रेअर अर्थ्स लि. ने एमएसएमई अचारपुरा में 112 करोड़ 93 लाख रूपये का पूँजी निवेश प्रस्तावित किया है। बड़े उद्योगों को आवंटित विकसित भूमि राज्य सरकार ने प्रदेश में बड़े उद्योगों को प्राथमिकता के साथ विकसित भूमि आवंटित की है। पिछले एक साल में इन उद्योगों को कुल 773 एकड़ विकसित भूमि आवंटित की है। इनमें से रॉलसन टायर्स को 404656 वर्गमीटर, एसीसी को 30600, मेकलॉडस फार्मास्युटिकल्स को 114200, श्रीराम पिस्टन एंड रिंग्स को 65000, सिपला लि. 121264, धार फारम्युलेशन 154228, पारले एग्रो 137200, वेल्सपन लि. को 604490, जमना ऑटो 48400, ऑटोमेटिव एक्सल 93032 और इंडियर रेअर अर्थ्स लि. को 101211 वर्गमीटर विकसित भूमि आवंटित की गई है।
Magnificent MP Industry Policy & Investment Promotion Department #JansamparkMP

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *