विंग कमांडर अभिनंदन की कल होगी पाकिस्तान से रिहाई: इमरान खान

पाकिस्तान के प्रधानमंत्री इमरान ख़ान ने कहा कि पकड़े गए भारतीय पायलट को शुक्रवार को भारत को सौंप दिया जाएगा. इमरान ख़ान ने ये घोषणा संसद के संयुक्त सत्र में की.

एक दिन पहले ही भारत ने पाकिस्तान से कहा था कि वो अपने क़ब्ज़े से इंडियन एयर फ़ोर्स के पायलट विंग कमांडर अभिनंदन की सुरक्षित वापसी सुनिश्चित करे.

संसद को संबोधित करते हुए इमरान ख़ान ने कहा, ”हमने भारत को चिट्ठी लिखी कि विदेश मंत्रियों को मिलना चाहिए लेकिन हमें बेहतर जवाब नहीं मिला. हमें लगा कि इसका जवाब इसलिए नहीं आया क्योंकि भारत में चुनाव हैं. इनके चुनावी अजेंडा में हमारे साथ संबंध अच्छे हों, ये है ही नहीं.”

इमरान ख़ान ने कहा-

  • हमें ख़ौफ़ था चुनाव के मद्देनज़र कुछ ना कुछ होगा जिसे भारत चुनाव के लिए इस्तेमाल करेगा.
  • मैं ये नहीं कहता कि पुलवामा में भारत का हाथ था, लेकिन हमले आधे घंटे के भीतर हमारे ऊपर आरोप लगे.
  • हमें इससे क्या मिलता. हमने भारत को जांच में सहयोग के लिए कहा, हम अपनी ज़मीं पर दहशतगर्दी को इजाज़त नहीं देंगे.
  • मैं पाक मीडिया से कहना चाहता हूं कि यहां मीडिया का बेहतर रुख़ था. हम लोगों ने ख़ुद देखा है कि आतंक से क्या होता है. हम पीड़ित है. मुझे अफ़सोस है कि भारत की मीडिया ने बेहद बचकाना रवैया दिखाया उन्हें नहीं पता युद्ध का नुकसान, हमारी मीडिया ने 70 हज़ार लोगों की मौत आतंक के कारण होते देखी है.
  • आज भारत ने डॉज़ियर भेजा लेकिन दो दिन पहले हमला कर दिया. ये पहले डॉज़ियर दे सकते थे. भारतीय चुनाव को देखते हुए भारत सरकार ये कर रही है.
  • जब भारत ने पाकिस्तान पर हमला किया तो मुझे सुबह-सुबह पता चला. हमने सेना प्रमुख से बात की. हमें किसी के हताहत नहीं होने की ख़बर मिली. हमने तय किया कि हम कुछ ना करे. अगर कोई हताहत नहीं हुआ और हम किसी को हताहत कर दें तो ये ग़लत होता. हमने एक ज़िम्मेदार देश की तरह ये दिखाया कि हमले पर हम चुप नहीं होंगे.
  • इस हमले में पायलट पाक के कब्ज़े में है. मैंने मोदी को कल फ़ोन करने की कोशिश की ताकि हम बता सकें. लेकिन वे नहीं चाहते कि बात हो. हमारी सारी कोशिश है कि तनाव कम हो.
  • मैं हिंदुस्तान की आवाम से पूछना चाहता हूं कि क्या इस ज़ुल्म से कश्मीर पाया जा सकता है? पिछले 20 साल में कोई भी कश्मीर के नेता भारत की नीतियों के साथ नहीं रहना चाहते. वो आज़ादी चाहते हैं. आख़िर क्यों कश्मीरी युवा ख़ुद को बम बना लेता है. आख़िर क्यों उनमें मरने का ख़ौफ़ ख़त्म हो गया है. भारत में एक बहस की ज़रूरत है. हर वक़्त पाकिस्तान पर ऊंगली ना उठाए.
  • मोदी को पैग़ाम देना चाहता हूं कि किसी को युद्ध की ओर ना ढकेलें. भारत से कहना चाहता हूं इसे यहीं रोक दें आगे ना ले जाएं वरना पाकिस्तान को मजबूरी में जवाब देना होगा.

वहीं, इमरान ख़ान के बयान के बाद विज्ञान भवन में विज्ञान एवं तकनीक से जुड़े शांति स्वरूप भटनागर पुरस्कार समारोह में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने भाषण दिया.

इस दौरान उन्होंने इशारों-इशारों में कहा कि वैज्ञानिक जिस तरह से पायलट प्रोजेक्ट करते हैं, उसी तरह अभी-अभी एक पायलट प्रोजेक्ट हुआ है और अभी रियल करना है.

अभिनंदन कौन हैं?

अभिनंदन भारतीय वायु सेना में विंग कमांडर हैं. वो बुधवार को मिग 21 लेकर उड़े थे लेकिन पाकिस्तानी एयरफ़ोर्स ने इसे मार गिराया और पायलट को अपने क़ब्ज़े में ले लिया.

पाकिस्तानी सेना ने अभिनंदन का एक वीडियो भी सोशल मीडिया पर पोस्ट किया है.

अभिनंदन के जो शुरुआती वीडियो पाकिस्तान से आए हैं उनमें वो ज़ख़्मी दिख रहे थे और उनके चेहरे पर ख़ून फैला हुआ था.

एक वीडियो में अभिनंदन को कुछ लोग पीटते हुए दिख रहे थे. एक अन्य वीडियो में अभिनंदन की आंखों पर पट्टी है और वो कह रहे हैं, ”मेरा नाम विंग कमांडर अभिनंदन है. मेरा सर्विस नंबर 27981 है. मैं एक फ्लाइंग पायलट हूं.”

एक और वीडियो में अभिनंदन चाय या कॉफ़ी पीते नज़र आ रहे हैं. अभिनंदन इस वीडियो में कह रहे हैं कि उनके साथ बढ़िया व्यवहार किया जा रहा है और वो अगर भारत वापस आते हैं तब भी यही बात कहेंगे.

इस वीडियो में अभिनंदन ख़ुद को दक्षिण भारत का बता रहे हैं. उनसे यह भी पूछा गया कि क्या वो शादीशुदा हैं तो इसके जवाब में उन्होंने हां कहा.

अभिनंदन के पिता भी एयरफ़ोर्स में ही थे और उनके भाई भी एयरफ़ोर्स में ही हैं. अभिनंदन 2004 में कमीशन्ड हुए थे.

आप हमें फ़ेसबुकट्विटरइंस्टाग्राम और यूट्यूब पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.
समाजसेवी अधिमान्‍य पत्रकार महासंघ से जुडने हेतु संपर्क करेे –

संपूर्ण भारत में संवाददाता नियुक्‍त करना है। संपर्क करे – 9424400606

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *